(PDF डाउनलोड 2022) Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF | हनुमान चालीसा पाठ Hindi Download Fast लिंक

Spread the love

Shri Hanuman Chalisa in hindi pdf |  हनुमान चालीसा पाठ पीडीएफ इन हिंदी | hanuman chalisa Pdf | हनुमान चालीसा संकटमोचन पीडीऍफ़ | Hanuman chalisa in hindi pdf 2022 | Hanuman chalisa in hindi Pdf 2022

हनुमान चालीसा की शक्ति के बारे में हम सभी लोग जानते हैं क्योंकि जो लोग हनुमान चालीसा पढ़ते हैं उनके आसपास  संकट नहीं आता हैं। जो लोग हनुमान चालीसा का पाठ हर दिन करते हैं उनके जीवन में अपार खुशियां छा जाती हैं।

लेकिन आजकल ज्यादातर लोगों के सामने एक समस्या रहती है कि उनके पास हनुमान चालीसा नहीं रहती है इस वजह से वह है यह पाठ नहीं कर पाते हैं तो आज के इस पोस्ट में हम आपको हनुमान चालीसा का पीडीएफ (Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF) देने वाले हैं जिसको देखकर आप हनुमान चालीसा का पाठ कर सकते हैं और अपने जीवन में एक सकारात्मक परिवर्तन की उम्मीद कर सकते हैं।

Shri Hanuman Chalisa in hindi pdf

Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF (Key Highlights)-

पीडीऍफ़ का नाम Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF
पोस्ट का नाम हनुमान चालीसा पाठ Hindi Download Fast लिंक 2022
भाषा हिंदी भाषा
पीडीऍफ़ डाउनलोड करें यहाँ क्लिक करें 

Hanuman Chalisa Pdf पाठ करने की विधि पढ़ें-

दोस्तों किसी भी देवता का आह्वान करना इतना जरूरी नहीं है लेकिन आसान करने के लिए जिस विधि का प्रयोग किया जाता है वह बहुत जरूरी है क्योंकि अगर सही तरीके से विधि पूर्वक पाठ ना किया जाए तो आप किसी भी देवता को प्रसन्न नहीं कर पाएंगे। अगर आप प्रतिदिन हनुमान चालीसा (Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF) का पाठ करते हैं तो आपको कुछ विधि ध्यान में रखनी होगी।

हनुमान चालीसा का पाठ करने से पहले आपको स्नान और शुद्धि कर लेनी आवश्यक है इसके बाद आपको पूर्व दिशा की तरफ मुंह करके बैठ जाना है क्योंकि पूर्व दिशा से सूर्य उदय होता है तो यह दिशा हनुमान चालीसा के लिए उत्तम है। इसके अलावा एक बात का और ध्यान रखें कि आप जब भी हनुमान चालीसा का पाठ करें तो आपके सामने हनुमान जी का चित्र या फोटो होना जरूरी है।

इसके अलावा आप अपने हाथों में पुष्पा या चावल रखकर भी हनुमान चालीसा का पाठ कर सकते हैं चाहे आप हाथ जोड़कर भी हनुमान जी से पूरी श्रद्धा भाव से हनुमान चालीसा का पाठ कर सकते हैं। हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए आप उनको सिंदूर चढ़ा सकते हैं सिंदूर हनुमान जी को बहुत प्रिय है।

श्री हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ें PDF in Hindi-  

दोहा 

श्रीगुरु चरन सरोज रज निज मनु मुकुरु सुधारि ।

बरनउँ रघुबर बिमल जसु जो दायकु फल चारि ॥

बुद्धिहीन तनु जानिके, सुमिरौं पवन कुमार।

बल बुधि विद्या देहु मोहि, हरहु कलेश विकार।।

चौपाई

जय हनुमान ज्ञान गुन सागर

जय कपीस तिहुँ लोक उजागर

राम दूत अतुलित बल धामा

अंजनि पुत्र पवनसुत नामा॥

महाबीर बिक्रम बजरंगी

कुमति निवार सुमति के संगी

कंचन बरन बिराज सुबेसा

कानन कुंडल कुँचित केसा॥४॥

हाथ बज्र अरु ध्वजा बिराजे

काँधे मूँज जनेऊ साजे

शंकर सुवन केसरी नंदन

तेज प्रताप महा जगवंदन॥

विद्यावान गुनी अति चातुर

राम काज करिबे को आतुर

प्रभु चरित्र सुनिबे को रसिया

राम लखन सीता मनबसिया॥

सूक्ष्म रूप धरि सियहि दिखावा

विकट रूप धरि लंक जरावा

भीम रूप धरि असुर सँहारे

रामचंद्र के काज सवाँरे॥

लाय सजीवन लखन जियाए

श्री रघुबीर हरषि उर लाए

रघुपति कीन्ही बहुत बड़ाई

तुम मम प्रिय भरत-हि सम भाई॥

सहस बदन तुम्हरो जस गावै

अस कहि श्रीपति कंठ लगावै

सनकादिक ब्रह्मादि मुनीसा

नारद सारद सहित अहीसा॥

जम कुबेर दिगपाल जहाँ ते

कवि कोविद कहि सके कहाँ ते

तुम उपकार सुग्रीवहि कीन्हा

राम मिलाय राज पद दीन्हा॥

तुम्हरो मंत्र बिभीषण माना

लंकेश्वर भये सब जग जाना

जुग सहस्त्र जोजन पर भानू

लिल्यो ताहि मधुर फ़ल जानू॥

प्रभु मुद्रिका मेलि मुख माही

जलधि लाँघि गए अचरज नाही

दुर्गम काज जगत के जेते

सुगम अनुग्रह तुम्हरे तेते॥

राम दुआरे तुम रखवारे

होत ना आज्ञा बिनु पैसारे

सब सुख लहैं तुम्हारी सरना

तुम रक्षक काहु को डरना॥

आपन तेज सम्हारो आपै

तीनों लोक हाँक तै कापै

भूत पिशाच निकट नहि आवै

महावीर जब नाम सुनावै॥

नासै रोग हरे सब पीरा

जपत निरंतर हनुमत बीरा

संकट तै हनुमान छुडावै

मन क्रम वचन ध्यान जो लावै॥

सब पर राम तपस्वी राजा

तिनके काज सकल तुम साजा

और मनोरथ जो कोई लावै

सोई अमित जीवन फल पावै॥

चारों जुग परताप तुम्हारा

है परसिद्ध जगत उजियारा

साधु संत के तुम रखवारे

असुर निकंदन राम दुलारे॥

अष्ट सिद्धि नौ निधि के दाता

अस बर दीन जानकी माता

राम रसायन तुम्हरे पासा

सदा रहो रघुपति के दासा॥

तुम्हरे भजन राम को पावै

जनम जनम के दुख बिसरावै

अंतकाल रघुवरपुर जाई

जहाँ जन्म हरिभक्त कहाई॥

और देवता चित्त ना धरई

हनुमत सेई सर्व सुख करई

संकट कटै मिटै सब पीरा

जो सुमिरै हनुमत बलबीरा॥

जै जै जै हनुमान गुसाईँ

कृपा करहु गुरु देव की नाई

जो सत बार पाठ कर कोई

छूटहि बंदि महा सुख होई॥

 

जो यह पढ़े हनुमान चालीसा

होय सिद्ध साखी गौरीसा

तुलसीदास सदा हरि चेरा

कीजै नाथ हृदय मह डेरा॥

दोहा

पवन तनय संकट हरन, मंगल मूरति रूप।

राम लखन सीता सहित, हृदय बसहु सुर भूप।।

सियावर रामचन्द्र की जय

पवनसुत हनुमान की जय

उमापति महादेव की जय

बोलो रे भई सब सन्तन की जय

credit goes to official page:-

(आशानी से डाउनलोड) Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF करें-

दोस्तों जैसे की मैंने आपको पहले ही बताया था आज के इस पोस्ट में मैं आपको हनुमान चालीसा PDF file Download करने का सबसे साधारण और आशान लिंक दूंगा व निम्नलिखित है-

Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF  डाउनलोड करें 

हनुमान चालीसा पढ़ने का सही समय क्या है?

(हनुमान चालीसा संकटमोचन पीडीऍफ़) हनुमान चालीसा का पाठ आपको मंगलवार और शनिवार के दिन करना चाहिए हनुमान चालीसा पढ़ने का सही समय सुबह के 4:00 बजे है। अगर आप इस समय हनुमान चालीसा का पाठ करते हैं तो आपको हनुमान जी की अपार कृपा दृष्टि प्राप्त होती हैं।

Conclusion | निष्कर्ष-

दोस्तों जैसे की मैंने आपको इस पोस्ट इस में Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF से जुडी अधिक से अधिक जानकारी देने का प्रयास किया है साथ ही आशा करता हू की मेरे द्वारा दी गयी जानकारी आपको हेल्पफुल लगी हो अतः यदि आपके मन में कोई भी सवाल हो इस Shri Hanuman Chalisa in Hindi PDF से जुडी तो आप निचे Commetn Box पूछ सकते हैं मैं जल्द से जल्द उस सवाल का जवाब देने की कोशिश करूँगा |

जरुरी सूचना-

यदि आप सरकार द्वारा दी जाने वाली अन्य दूसरी नई-पुरानी योजना/फॉर्म से जुडी किसी भी जानकारी के बारें में जानना चाहते हैं तो उसके लिए आप Google में यह लिख कर सर्च करें- Digitalyojana.in और आपको सबसे पहले हमारें इस Official website का लिंक मिलेगा उसपर आप क्लिक करके योजना/फॉर्म के बारें में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं |


हमसे दूसरे Social Media प्लेटफोर्म पर जुड़ने के लिए निचे दिए गएँ Groups/page को जरुर से Join करें-

Join Telegram Group  Join Facebook Page

Leave a Comment